आज की ताजा खबर मौसम विभाग ने किया अलर्ट बिहार की नदियों मे आया पानी जानिए क्या है , पूरी खबर

हमसे जुरने के लिए ग्रुप को जॉइन करे
Construction Jobs पाने के लिए WhatsApp मे जुड़े Join Now
Construction Jobs पाने के लिए Telegram मे जुड़े Join Now

आज की ताजा खबर मौसम विभाग ने किया अलर्ट बिहार की नदियों मे आया पानी जानिए क्या है , पूरी खबर

पटना बिहार: नेपाल से पानी आने से बिहार की प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ा है। खतरे के निशान के आसपास कई नदियां बहती हैं। मंगलवार को गंडक और कोसी बराजों से भारी वर्षा हुई ठीक है। इससे नदियों का जलस्तर बहुत बढ़ गया है और आसपास के क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है लटका हुआ है। मंगलवार की सुबह छह बजे, वीरपुर बराज में कोसी नदी का जलस्तर 89,145 क्यूसेक था। साथ ही 10 बजे सुबह 1,02,765 क्यूसेक पहुंचे। वहीं गंडक नदी के किनारे वाल्मीकि नगर बराज 83,900 क्यूसेक जल है।

अधिकांश क्षेत्रों में बारिश की उम्मीद: हालाँकि, मौसम विभाग ने कहा कि अगले 24 घंटे में राज्य के अधिकतर इलाकों में बारिश होने की उम्मीद है। बिहार में बारिश और नेपाल से आ रहे पानी से नदियों का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। जल संसाधन विभाग के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार, बिहार की सबसे बड़ी नदियां गंगा, गंडक, बूढ़ी गंडक, कोसी और बागमती उफान हैं। लेकिन खतरे के निशान अभी भी नीचे हैं। नेपाल और बिहार में लगातार बारिश से कई नदियां खतरे के निशान को पार कर जाएंगी।

तटबंधों पर कड़ी निगरानी: जल संसाधन विभाग ने तटबंधों की नगिरानी को अधिक कठोर कर दिया है। दो दिन पहले, विभाग के मंत्री संजय कुमार झा ने भी कई क्षेत्रों में जाकर तटबंधों का निरीक्षण किया था। संजय कुमार झा ने दो दिन पहले एकमी घाट से सिरनिया तक दरभंगा बागमती नदी के बाएं तट पर निर्मित १०.५ किमी लंबे तटबंध का निरीक्षण किया। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को इसकी सुरक्षा और सुधार के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बहादुरपुर, हनुमान नगर और हायाघाट प्रखंड इस तटबंध के अधीन हैं। इसके अतिरिक्त, बेनीपुर जिले में सकरी शाखा नहर की बिंदु दूरी 140.00 के पास स्थल निरीक्षण किया गया।

यह भी पढे:

Leave a Comment